Home / विश्व परिदृश्य (page 5)

Category Archives: विश्व परिदृश्य

Feed Subscription

पिवोट टू एशिया के बाद पिवोट टू लैटिन अमेरिका – 2

पिवोट टू एशिया के बाद पिवोट टू लैटिन अमेरिका – 2

अमेरिकी साम्राज्य अपने डाॅलर और अपनी सामरिक क्षमता पर टिका हुआ है। माॅर्गन ने ‘पिवोट टू लैटिन अमेरिका‘ के पक्ष में अपने निष्कर्षों को सामरिक आधार भी दिया है। वो मानते हैं, कि लातिनी अमेरिकी देशों में चीन की मौजूदगी, ...

Read More »

पिवोट टू एशिया के बाद पिवोट टू लैटिन अमेरिका – 1

पिवोट टू एशिया के बाद पिवोट टू लैटिन अमेरिका – 1

चार साल पहले ओबामा सरकार ने ‘पिवोट टू एशिया‘ की घोषणां की थी, जिसका मकसद चीन की सामरिक घेराबंदी और एशिया-प्रशांत क्षेत्र में उसके विस्तार को रोकने के लिये उसकी वित्तीय नाकेबंदी थी, ताकि बिजिंग को वाशिंगटन के सामने घुटने ...

Read More »

दावोस के लोग

दावोस के लोग

दावोस में ‘वल्र्ड इकोनाॅमिक फोरम‘ का वार्षिक सम्मेलन हुआ। जिसमें आर्थिक मानदण्डों को पूरो करने वाले दुनिया भर के चुने हुए अमीर, वैश्विक वित्तीय इकाईयों एवं बैंकों के प्रमुख, अपने क्षेत्र के विशेष लोग, मीडिया के गिने-चुने लोगों सहित, ज्यादातर ...

Read More »

संघर्ष और वार्ताओं के बीच सीरिया

संघर्ष और वार्ताओं के बीच सीरिया

‘सीरिया के राष्ट्रपति बशर-अल-असद जनवरी में तेहरान की यात्रा पर जायेंगे।‘‘ ईरान की मीडिया ने इस बात की जानकारी दी है। खबर में कहा गया है, कि ‘‘यात्रा के लिये राष्ट्रपति असद इराक के वायु क्षेत्र का उपयोग करेंगे, और ...

Read More »

भारत- आतंकी हमलों में आयी तेजी का सबब

भारत- आतंकी हमलों में आयी तेजी का सबब

आतंकवाद के खिलाफ एक लम्बी लड़ाई लड़ी जा रही है, जिसमें सरकारें आम जनता से अक्सर झूठ बोलती हैं। भारत की सरकार भी यही कर रही है। वह अपने राजनीतिक हितों के लिये ऐसी हरकत कर रही है, कि जो ...

Read More »

वैश्विक अराजकता के बीच

वैश्विक अराजकता के बीच

एकध्रुवी विश्व की अमेरिकी अवधारणा और उसकी नीतियां चकनाचूर हो गयी हैं। जिस नव उदारवादी वैश्वीकरण से वह पूरे विश्व को एक खेमे मे बदलना चाहता था, उसी नवउदारवादी वैश्वीकरण ने विश्व को दो खेमों में बांट दिया है। अब ...

Read More »

सीरिया के संकट का विस्तार

सीरिया के संकट का विस्तार

सीरिया में रूस के सैन्य हस्तक्षेप ने न सिर्फ सीरिया बल्कि विश्व परिदृश्य को बदल दिया है। इस संकट के चार साल बाद, इस बात की संभावना नजर आने लगी है, कि इस संकट का समाधान संभव है। कि अमेरिकी ...

Read More »

आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक एकजुटता का सवाल!

आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक एकजुटता का सवाल!

आतंकवाद के खिलाफ विश्व स्तर पर राजनीतिक सक्रियता बढ़ी है। जी-20 सम्मेलन हो या आसियान देशों का सम्मेलन आार्थिक मुद्दों के अलावा आतंकवाद का मुद्दा अहम् रहा है। आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक एकजुटता और संयुुक्त कार्यवाही पर जोर दिया गया, ...

Read More »

आतंकवाद के खिलाफ होना साम्राज्यवादी बाजारवाद के खिलाफ होना है।

आतंकवाद के खिलाफ होना साम्राज्यवादी बाजारवाद के खिलाफ होना है।

14 नवम्बर को फ्रांस पर आतंकी हमला हुआ और यह सवाल जेहन में कौंध गया, कि इस हमले का मकसद क्या है? क्या यूरोप अमेरिका के साथ मिल कर अपने ही द्वारा पैदा किये गये शरणार्थी संकट से भाग रहा ...

Read More »

यूरोप में अमेरिकी साझेदारी से बढ़ता अविश्वास

यूरोप में अमेरिकी साझेदारी से बढ़ता अविश्वास

दशकों से यूरोप अमेरिकी साम्राज्य के सदस्य देशों की तरह उसके पीछे चलता रहा है, आज भी यूरोपीय संघ के सदस्य देशों की सरकारों की स्थितियां यही हैं, कि वो अमेरिकी हितों से संचालित हो रही हैं, किंतु 2007-08 के ...

Read More »
Scroll To Top