Category Archives: यूरोप

Feed Subscription

आतंकवाद के खिलाफ होना साम्राज्यवादी बाजारवाद के खिलाफ होना है।

आतंकवाद के खिलाफ होना साम्राज्यवादी बाजारवाद के खिलाफ होना है।

14 नवम्बर को फ्रांस पर आतंकी हमला हुआ और यह सवाल जेहन में कौंध गया, कि इस हमले का मकसद क्या है? क्या यूरोप अमेरिका के साथ मिल कर अपने ही द्वारा पैदा किये गये शरणार्थी संकट से भाग रहा ...

Read More »

यूरोप में अमेरिकी साझेदारी से बढ़ता अविश्वास

यूरोप में अमेरिकी साझेदारी से बढ़ता अविश्वास

दशकों से यूरोप अमेरिकी साम्राज्य के सदस्य देशों की तरह उसके पीछे चलता रहा है, आज भी यूरोपीय संघ के सदस्य देशों की सरकारों की स्थितियां यही हैं, कि वो अमेरिकी हितों से संचालित हो रही हैं, किंतु 2007-08 के ...

Read More »

आतंकवाद के खिलाफ तजाकिस्तान में रूसी सक्रियता

आतंकवाद के खिलाफ तजाकिस्तान में रूसी सक्रियता

रूस की सैन्य सक्रियता अपनी सुरक्षा के अलावा वैश्विक परिस्थितियों से संचालित हो रही है। इस्लामिक आतंकी और उनके सहयोगियों के खिलाफ उसने सीरिया में न सिर्फ निर्णायक संघर्ष की शुरूआत की है, बल्कि वह आतंकवाद के खिलाफ अपने मित्र ...

Read More »

ग्रीस के बारे में मीडिया जो नहीं बताती

ग्रीस के बारे में मीडिया जो नहीं बताती

मुख्य धारा की मीडिया ‘यूरोप में कर्ज के संकट‘ की बात नहीं करती। उनके लिये यह सवाल ही नहीं है, कि संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोप की सरकारों पर कर्ज का बोझ कैसे लद गया? या इतना कर्ज आया कहां ...

Read More »

जन समर्थन के साथ ग्रीस वार्ता की मेज पर है

जन समर्थन के साथ ग्रीस वार्ता की मेज पर है

ग्रीस के संकट को पहले ग्रीस में रोका गया, किंतु अब यह यूरो जोन और अंतर्राष्ट्रीय मुद्राकोष का ही नहीं, बल्कि बाजारवादी अर्थव्यवस्था का संकट बन गया है। जिसके विस्तार को रोका नहीं जा सकता। निश्चित रूप से हम कह ...

Read More »

सेंट पीटर्सबर्ग अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक फोरम का वार्षिक सम्मेलन

सेंट पीटर्सबर्ग अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक फोरम का वार्षिक सम्मेलन

18 जून, 2015 को रूस में ‘‘सेंट पीटर्सबर्ग इण्टरनेशनल इकोनाॅमिक फोरम‘‘ का सम्मेलन सेंट पीटर्सबर्ग में हुआ। 1997 से हर वर्ष रूस के आर्थिक विकास मंत्रालय द्वारा आयोजित यह सम्मेलन, वैश्विक स्तर पर ‘वल्र्ड इकोनाॅमिक फोरम‘ की तरह ही, दुनिया  ...

Read More »

शरणार्थियों का संकट – यूरोपीय संघ का दस सूत्रीय कार्यक्रम

शरणार्थियों का संकट – यूरोपीय संघ का दस सूत्रीय कार्यक्रम

दुनिया भर में शरणार्थियों की तादाद रोज बढ़ रही है, जिसकी वजह तीसरी दुनिया के देशों में फैलायी जा रही राजनीतिक अस्थिरता है, खास कर एशिया और अफ्रीका के देशों में। इन देशों पर साम्राज्यवादी हमले हो रहे हैं, और ...

Read More »

रूस की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की रिपोर्ट

रूस की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की रिपोर्ट

रूस की सुरक्षा परिषद ने फरवरी में घोषित किये गये संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा नीतियों के विश्लेषण की बातें की थी। 26 मार्च 2015 को निष्कर्ष रूप में कहा गया, कि ‘यह देश अपने वैश्विक प्रभुत्व को बनाये ...

Read More »

भू-राजनीतिक संतुलन और निकारागुआ नहर

भू-राजनीतिक संतुलन और निकारागुआ नहर

निकारागुआ नहर का निर्माण यूरोशिया, उत्तरी अमेरिका, यूरोप, अफ्रीका और लातिनी अमेरिका के भू-राजनीतिक संतुलन के केंद्र में आ गया है। जिससे सम्बद्ध देशों के हितों का प्रभावित होना तय है। यही कारण है, कि इस नहर के निर्माण कार्य ...

Read More »

जर्मन लोकतंत्र पर फासिस्टवाद का खतरा एवं समाजवादी विकल्प

जर्मन लोकतंत्र पर फासिस्टवाद का खतरा एवं समाजवादी विकल्प

यूरोपीय देशों का आर्थिक संकट अब राजनीतिक समाधान की ओर बढ़ रहा है। एक बार फिर फासिस्टवाद के विरूद्ध समाजवादी क्रांति की सोच बढ़ रही है। लोगों को यह लगने लगा है, कि पूंजीवादी व्यवस्था में सुधार की संभावनायें खत्म ...

Read More »
Scroll To Top