Home / विश्व परिदृश्य / एशिया (page 2)

Category Archives: एशिया

Feed Subscription

इण्डोनेशिया, ड्रग तस्करों के पक्ष में आॅस्ट्रेलियायी सरकार

इण्डोनेशिया, ड्रग तस्करों के पक्ष में आॅस्ट्रेलियायी सरकार

सरकारें यदि आतंकवादियों की तरह तस्करों और अपराधियों का समर्थन करने लगे तो ऐसी सरकारों की विश्वसनियता स्वाभाविक रूप से घट जाती है, सरकार के लिये समर्थन की सोच को लकवा मार जाता है। आज यही हो रहा है। अमेरिकी ...

Read More »

यदि सीरिया पर अमेरिकी हमला हुआ?

यदि सीरिया पर अमेरिकी हमला हुआ?

बराक ओबामा सिर्फ इराक में ही नहीं, सीरिया में भी इस्लामिक स्टेट से लड़ना चाहते हैं, जहां उनके समर्थित बशर-अल-असद सरकार विरोधी विपक्ष, हथियाबद्ध पेशेवर विद्रोही और अल् कायदा से जुड़े आतंकी संगठन अल-नुसरा सहित कई आतंकी गुट लड़ रहे ...

Read More »

गाजा से डाॅ. मेस गिल्बर्ट – ‘‘मि. ओबामा क्या आपके पास दिल है?’’

गाजा से डाॅ. मेस गिल्बर्ट – ‘‘मि. ओबामा क्या आपके पास दिल है?’’

डाॅ. मेस गिल्बर्ट ‘‘गाजा में जो हो रहा है, आप उसका समर्थन कैसे कर सकते हैं?‘‘ यह सवाल बराक ओबामा या उनके बेरहम दोस्तों से नहीं है, जिनके पास सेना और आतंकी हत्यारे हैं। उनसे यह सवाल हम नहीं कर ...

Read More »

र्इरान का मुददा दुनिया के 6 बड़े देशों के बीच है

र्इरान का मुददा दुनिया के 6 बड़े देशों के बीच है

र्इरान का मुददा अमेरिका, यूरोपीय संघ और इस्त्राइल की हदों से बाहर निकल कर दुनिया के 6 बड़े देशों के बीच आ गया है, जिसमें अमेरिका, बि्रटेन, फ्रांस और जर्मनी ही नहीं रूस और चीन भी हैं। और यह बड़ी ...

Read More »

‘पिवोट टू एशिया’ एशिया में युद्ध का बढ़ता खतरा है

‘पिवोट टू एशिया’ एशिया में युद्ध का बढ़ता खतरा है

‘पिवोट टू एशिया’ अमेरिकी खतरे में बदल गया है, जिसके निशाने पर चीन है। जो एशिया में अमेरिकी वर्चस्व और दुनिया में अमेरिकी डालर की वरियता की राह में सबसे बड़ी बाधा बन गया है। और अमेरिका इस बाधा को ...

Read More »

एशिया में साझेदारी और समझौतों से बढ़ता खतरा

एशिया में साझेदारी और समझौतों से बढ़ता खतरा

‘एशिया पिवोट’ एशिया को दुनिया का केंद्र बनाने की राजनीति अमेरिकी साजिश बन गयी है। जिसका मतलब वैश्वीकरण की तरह ही एशिया का अमेरिकीकरण है। जिसका मकसद उसके प्राकृतिक सम्पदा, जन-श्रमशकित के सस्ते स्त्रोत और बाजार पर अमेरिकी वर्चस्व कायम ...

Read More »

चीन की सरकार समाजवाद की ओर लौटना चाहती है?

चीन की सरकार समाजवाद की ओर लौटना चाहती है?

चीन हमारे लिये आज भी पूर्व समाजवादी देश है। जिसने समाजवदी जमीन पर मुक्त बाजारवादी अर्थव्यवस्था के जरिये आर्थिक समृद्धि हासिल कर ली है, और वैशिवक स्तर पर अमेरिका के समकक्ष सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। माना यही जा रहा है, ...

Read More »

सीरिया के संकट ने विश्व परिदृश्य को प्रभावित किया है

सीरिया के संकट ने विश्व परिदृश्य को प्रभावित किया है

सीरिया का संकट एक बड़े युद्ध के मुहाने से, वार्ता की ओर मुड़ रहा है। लम्बे तनाव के बाद शांति वार्ता के मुददे पर रूस और हमले के लिये पगलाये हुए अमेरिका के बीच बनी न्यूनतम सहमति से युद्ध के ...

Read More »

सीरिया के संकट ने विश्व परिदृश्य को प्रभावित किया है

सीरिया के संकट ने विश्व परिदृश्य को प्रभावित किया है

सीरिया का संकट एक बड़े युद्ध के मुहाने से, वार्ता की ओर मुड़ रहा है। लम्बे तनाव के बाद शांति वार्ता के मुददे पर रूस और हमले के लिये पगलाये हुए अमेरिका के बीच बनी न्यूनतम सहमति से युद्ध के ...

Read More »

तुर्की में विरोध प्रदर्शन- ”तक्सीम, फासीवाद का कब्रगाह होगा।”

तुर्की में विरोध प्रदर्शन- ”तक्सीम, फासीवाद का कब्रगाह होगा।”

अपने देश की सरकार से, तुर्की की आम जनता की सहमति कहीं नहीं बनती, चाहे वह अमेरिका के समर्थन में सीरिया पर हमले का मामला हो, या नाटो सेना की मौजूदगी। चाहे वह मुक्त व्यापार की आर्थिक नीतियां हों, या ...

Read More »
Scroll To Top