Home / 2013 / July

Monthly Archives: July 2013

अफसोस, दिल गडढे मे!

अफसोस, दिल गडढे मे!

कभी हमने सोचा था, कि हमारे पास भी अपनी गाड़ी होगी, और उसके नम्बर प्लेट पर नौ-दो-ग्यारह (9 2 11) लिखवायेंगे। मगर, मेरी तरक्की सेकेण्ड हेण्ड स्कूटर से आगे नहीं बढ़ सकी। जिस पर नम्बर पहले से लिखा था। दूसरी ...

Read More »

ब्रजील- वल्र्डकप और ओलमिपक के खिलाफ जन प्रदर्शन

ब्रजील- वल्र्डकप और ओलमिपक के खिलाफ जन प्रदर्शन

20 जून को ब्रजील के लाखों लोगों ने रिओ-डी-जेनेरियो और साओ-पोलो में प्रदर्शन किये। प्रदर्शन की शुरूआत तुर्की की तरह ही छोटे से मुददे से हुर्इ, मगर, विरोध सामाजिक असमानता, स्वास्थ्य और शिक्षा जैसे बुनियादी जरूरतों से जुड़ती चली गयी। ...

Read More »

मिस्त्र का तहरीर चौका खाली नहीं है!

मिस्त्र का तहरीर चौका खाली नहीं है!

मिस्त्र का तहरीर चौक खाली नहीं है। मिस्त्र में, अब तक के सबसे बड़े प्रदर्शनों का दौर जारी है। राष्ट्रपति मुर्सी के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों को सिर्फ मुर्सी के खिलाफ नहीं कहा जा सकता, वास्तव में यह अरब क्रांति ...

Read More »

आपदायें अब सिर्फ प्राकृतिक नहीं होतीं

आपदायें अब सिर्फ प्राकृतिक नहीं होतीं

प्रकृति ने यह बात बिल्कुल साफ कर दी है, कि आपदायें सिर्फ प्राकृतिक नहीं होतीं, प्राकृतिक आपदाओं में समाज, राज्य और उनकी सरकारों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। उत्तराखण्ड हमारे सामने है, जिनकी तस्वीरें अभी ओझल नहीं हुर्इं। x x ...

Read More »

सीरिया का संकट युद्ध के मुहाने पर खड़ा है

सीरिया का संकट युद्ध के मुहाने पर खड़ा है

सीरिया के संकट को प्रस्तावित जिनेवा वार्ता तक पहुंचने से पहले ही, निर्णायक युद्ध की ओर मोड़ दिया गया है। यूरोपीय संध के विदेश मंत्रियों के ब्रुसेल्स सम्मेलन में सीरियायी विद्रोहियों को हथियार देने का निर्णय लिया जा चुका है। ...

Read More »

धोखे का खतरा हम कब तक उठायेंगे?

धोखे का खतरा हम कब तक उठायेंगे?

किसी को भी आप बाजार में खड़ा कर दें, वह खुद को सतर्क और चालाक दिखाने की कोशिश करने लगेगा। वह सतर्क और चालाक है या नहीं? इस बात का, उसके बाजार में खड़ा होने से, कोर्इ संबंध नहीं है, ...

Read More »

मध्य-पूर्व में बढ़ता युद्ध का खतरा

मध्य-पूर्व में बढ़ता युद्ध का खतरा

सीरिया के संकट का राजनीतिक समाधान एशिया की शांति एवं स्थिरता के लिये जरूरी है, मगर यूरोपीय संघ और अमेरिकी सरकार के निर्णयों से, रूस के द्वारा समस्या को वार्ता की मेज पर लाने की कोशिशों को गहरा आघात लगा ...

Read More »

सामाजिक दासता और विध्वंस की नयी खोज- अमेरिकी सर्विलांस प्रोग्राम

सामाजिक दासता और विध्वंस की नयी खोज- अमेरिकी सर्विलांस प्रोग्राम

सड़क के किनारे समाज है और बाजार भी। लोग कहते हैं- ”सड़कें जहां जाती हैं, सड़कों के साथ सभ्यता भी वहां पहुंचती है।” मतलब, सड़कें सभ्यता को ढ़ोती हैं। रोम की सड़कें जहां पहुंचीं, उनके साथ रोम की सेना भी ...

Read More »

तुर्की में गीजि पार्क का मुददा, जनसंघर्ष में बदल गया है!

तुर्की में गीजि पार्क का मुददा, जनसंघर्ष में बदल गया है!

तुर्की का ‘तकसीम चौक मिस्त्र के ‘तहरीर चौक की तरह ही खाली नहीं है। 28 मर्इ से शुरू हुआ सरकार विरोधी प्रदर्शन, अब 78 शहरों में फैल गया है। गीजि पार्क का मुददा ऐसा नहीं था, सरकार जिसे आसानी से ...

Read More »

यूरोपीय संघ के खिलाफ, यूरोपीय देशों की आम जनता में बढ़ती एकजुटता

यूरोपीय संघ के खिलाफ, यूरोपीय देशों की आम जनता में बढ़ती एकजुटता

ग्रीस की राजधानी एथेन्स में, 8 जून को हजारों लोगों ने सरकार के द्वारा थोपी गयी कटौतियों और यूरोपीय संघ के आर्थिक नीति के खिलाफ प्रदर्शन किये। इस प्रदर्शन में पूरे यूरोप से आये प्रदर्शनकारियों ने भाग लिया। यह ‘हम ...

Read More »
Scroll To Top