Home / 2016 / October

Monthly Archives: October 2016

पढ़-लिख कर हम कहां फंस गये?

पढ़-लिख कर हम कहां फंस गये?

पढ़ने-लिखने की हमारी आदत रही है, मगर क्या करें, पढ़-लिख कर हम बुरे फंसे। न घर के रहे न घाट के। खुद को धोबी का कुत्ता कहते नहीं बन रहा है, हालांकि हालत कुछ ऐसी ही है। गले में धोबी ...

Read More »

आतंकवाद के विरोध का अड्डा

आतंकवाद के विरोध का अड्डा

जैसे कभी कम्युनिस्ट विरोधी होना अमेरिकी फैशन था, वैसे ही आतंकवाद विरोधी होना आज कल नेशनल और इंटरनेशनल फैशन बन गया है। और यह फैशन भी अमरिका से ही आया है। फिर आप तो जानते ही हैं, अमेरिकी राजनीति, सभी ...

Read More »

काठ के पुतले का रंग

काठ के पुतले का रंग

बढ़ती हुई सामाजिक असहिष्णुता का जिक्र सहसा ही थम गया। इतिहास और साहित्य पर हो रहे हमलों के बारे में भी बातें ना के बराबर हो रही हैं। भारतीय संस्कृति पर हो रहे हिंदूवादी सांस्कृतिक हमलों का जिक्र भी नहीं ...

Read More »

‘लीबिया कर्नल गद्दाफी के साथ ही मर गया’

‘लीबिया कर्नल गद्दाफी के साथ ही मर गया’

20 अक्टूबर 2011 को, सिरते में कर्नल गद्दाफी की हत्या की गयी। जिसे अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की सबसे बड़ी उपलब्धि माना गया। जिसका वीडियो देख कर हिलेरी क्लिंटन वहशियों की तरह अपनी खुशी जाहिर की- ‘‘हम आये, हमने देखा, वह ...

Read More »

बीस ट्रिलियन डॉलर के कर्ज में डूबी अमेरिकी अर्थव्यवस्था

बीस ट्रिलियन डॉलर के कर्ज में डूबी अमेरिकी अर्थव्यवस्था

संयुक्त राज्य अमेरिका का राष्ट्रीय कर्ज 19.5 ट्रिलियन डॉलर के स्तर को पार कर चुका है और इस बात का पक्का अनुमान है, कि ओबामा के कार्यकाल की समाप्ति तक यह कर्ज 20 ट्रिलियन डॉलर के स्तर तक पहुंच जायेगा। ...

Read More »

भुखमरी और कुपोषण के साथ बढ़ता युद्ध उन्माद

भुखमरी और कुपोषण के साथ बढ़ता युद्ध उन्माद

भारत में अभी भूख, गरीबी, कुपोषण और बेरोजगारी से ज्यादा आर्थिक विकास के लिये अर्थव्यवस्था का निजीकरण और सर्जिकल स्ट्राइक, भाजपा की मोदी सरकार की नामालूम उपलब्धियों पर चर्चा हो रही है। राष्ट्रवाद देशभक्ति और युद्ध के उन्माद को बढ़ाया ...

Read More »

रावण का दहन राम के साथ

रावण का दहन राम के साथ

श्री राम भक्त वानरों ने कल मचाया उत्पात। खुले दरवाजे से घुस आये कमरे में किताबों को रेक से, खाने के सामान को फ्रीज से, और जो भी रखा था जहां व्यवस्थित उसे वहां से उठा कर फर्श पर पटक ...

Read More »

सेना को साझेदार बनाने की रणनीति

सेना को साझेदार बनाने की रणनीति

कश्मीर की समस्या का समाधान क्या सेना निकाल सकती है? हमारे लिये यह सवाल है, मगर केंद्र की मोदी सरकार इस निर्णय पर पहुंच चुकी है, कि हथियारों के साथ वार्ता ही समस्या का समाधान है। गोलियां दागे, पैलट गन ...

Read More »

उत्तर प्रदेश में कौन कहां है?

उत्तर प्रदेश में कौन कहां है?

उत्तर प्रदेश में कौन कहां है? सरकार बनी सपा आपसी लड़ाई लड़ते हुए, मरहम-पट्टी कर रही है। बसपा बिखराव के साथ संभलने में लगी है। भाजपा अपने को जितना मजबूत दिखा रही थी उतनी है नहीं। ‘265 प्लस‘ का नारा, ...

Read More »

सर्जिकल स्ट्राईक – काली स्याही और देशभक्ति की तख्ती

सर्जिकल स्ट्राईक – काली स्याही और देशभक्ति की तख्ती

यदि सर्जिकल स्ट्राइक एक सवाल है, तो उड़ी आतंकी हमले को भी एक सवाल के नजरिये से देखा जाना चाहिये, जो कि वास्तव में एक सवाल है। जिसका राजनीतिक लाभ भारत की मोदी सरकार उठा रही है। और यह खयाल ...

Read More »
Scroll To Top