Home / वक्रदृष्टि / नमो मंत्र की नारेबाजी!

नमो मंत्र की नारेबाजी!

modi-at-pashupatinath-temple

सुबह हुई तो लगा- दिन अच्छा है।

दोपहर होते-होते, भरम टूटने लगा।

शाम को हम पस्त हुए।

रात, जिनके पास बत्तियां थीं, उन्होंने जला लीं। जिनके पास बत्तियां नहीं थीं, उनके लिये बत्ती गुल ही रही। और जिनकी बत्ती गुल है, शहर में उन्हीं की तादाद सबसे ज्यादा है। इसलिये शहर में उजाले के साथ घना अंधेरा भी रहता है।

अंधेरा किसी को अच्छा नहीं लगता।

जिनके पास बत्ती है, वो जरूरत से ज्यादा अपनी बत्ती जलाते हैं। यही देश सेवा है, यही विदेश सेवा है और यही पड़ोस सेवा है।

इस खयाल के आते ही मोदी जी मेरे खयालों में उभर गये और मैं जगमगाने लगा।

यह सोचना लाजमी है, कि उनके पास कितनी बत्तियां हैं, कि वो जहां जाते हैं, वहां लोगों की बत्तियां जगमगाने लगती हैं। उनसे जो मिलता है, उसकी बत्ती जल जाती है। बुढ़ापे में उनकी जवानी पहाड़ पर पानी की तरह बरसने लगती है।

वो नेपाल की बत्ती जलाते हैं, कि पानी और जवानी पहाड़ पर बरसाओ और अंजुरी रोप कर तलहटी में खड़े हो जाओ। पानी से बिजली बनेगी। बिजली से बत्ती जलेगी। तुम भी रोशन, हम भी रोशन, जवानी को काम मिलेगा और कारखानें धड़ाधड़ चलेंगे।

निजी कम्पनियां बिजली बना लेंगी। कारखाने चला लेंगी। हमें करना कुछ खास नहीं है, पहाड़ पर पानी और जवानी बरसानी है।

उन्होंने वादा किया- हम पानी और जवानी बरसायेंगे।

नेपाल में पानी बरस रहा है, जवानी बरस रही है। अब देखना यह है, कि नेपाल में बत्ती कब जगमगाती है?

अखबार में पढ़ा-

नेपाल को विकास के मॅाडल का फॅार्मूला देते हुए मोदी ने कहा- ‘‘मैं नेपाल को हिट करना चाहता हूं।‘‘

उन्होंने हिट कर दिया।

अब आप यह मत पूछियेगा कि कौन सा हिट? लाँग हिट, शॅार्ट हिट या फ्री हिट?

यह सब खेल में होता है।

यह हिट एण्ड रन वाला हिट नहीं है।

यह हिट तो नायाब काला हिरन वाला हिट भी नहीं है, जिसमें दबंग साहब फंसे हैं। यह मोदी जी का राजनीतिक हिट है। हाथ जोड़ कर, आंख मूंद कर सिर-आंखों पर लेने वाला हिट है। यह विकास का हिट है। एच0आई0वी0 की तरह एच0आई0टी0 का हिट है। यह लालूवादी शैली का बुझउवल वाला हिट है।

‘खुलासा करें।‘

तो खुलासा पेश है-

एच- यानी ‘हाईवे‘।

आई- माने ‘आईवेज‘। और

टी- माने ‘ट्रांसवेज‘।

आपके चेहरे पर अजीब सी उलझन है, तो उलझिये मत। ‘आईवेज‘ का निहितार्थ है- ‘इन्फॅार्मेशन टेक्नोलॅाजी‘ और ‘ट्रांसवेज‘ का गुणार्थ है- ‘ट्रांसमिशन लाइन‘। जिसके होने के बाद आप ‘नमस्कार‘ करके फोन नहीं रखेंगे, बल्कि गलचऊर करेंगे। जी भर कर बतकही होगी।

ऐसा करके मोदी जी अभी नेपाली लोगों के दिलों में उतर गये हैं। अब आप दिलों में उतरेंगे। गोते लगायेंगे। बस नमो मंत्र से नेपाल को हिट होने दें। पहाड़ पर पानी और जवानी को बरसने दें।

मोदी जी अब भारत के लिये नहीं नेपाल के लिये भी सेवा प्रदाता कम्पनियों से बात करेंगे।

अंत में- आईये हम नमो मंत्र की नारेबाजी करें।

Print Friendly

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Select language:
Hindi
English
Scroll To Top